शुक्रवार, नवंबर 06, 2009

९१ कोजी होम

दोस्तों ... आप लोग मेरी यादों में शामिल होते हैं उसके लिए धन्यबाद
आप लोग कहते ................ मैं बहुत छोटा ब्लॉग लिखता हूँ
छोटा लिखने की एक वजह है ....... आप लोगों का साथ ..............,
बहुत दिनों तक रहे ..........

3 टिप्‍पणियां:

नीरज गोस्वामी ने कहा…

आप एक बार लम्बी पोस्ट लिख कर तो देखिये...पाठकों की संख्या में अप्रत्याशित बढोतरी हो जायेगी और पाठक खुश होंगे सो अलग...आप का अनुभव इतना है की बरस निकल जायेंगे उसे बांटने में...बूद बूँद मत बाँटिये...बाल्टी भर भर के बाँटिये ताकि आनंद तो आये...
नीरज

sada ने कहा…

आप लिखते रहें हम पढ़ते रहेंगे ।

ओम आर्य ने कहा…

यह बात सही है कि आप बाल्टि भर के प्रस्तुत तो करिये .........सच है कि पाठ्को की संख्या मे बढोतरी अवश्य होगी!